अरब सागर में तूफान ओखी के निशाने पर चुनावी राज्य गुजरात

अरब सागर में चक्रवाती तूफान ओखी अब गुजरात के सौराष्ट्र की तरफ बढ़ रहा है। मौसम विभाग ने चेताया है कि अगले दो दिनों में यह तूफान दक्षिणी गुजरात पहुंच सकता है। कई राज्यों की सरकार को चेतावनी जारी  कर दी कई है।

दक्षिणी गुजरात के सूरत व आसपास, वडोदरा तथा खंभात की खाड़ी में तेज हवा व भारी से अति भारी बारिश हो सकती है जिससे जनजीवन पड़ असर पड़ने की संभावना है।

दक्षिण गुजरात में इसके 4 दिसंबर तक पहुंचने की संभावना है। यह चक्रवात, सौराष्ट्र, कच्छ, दमन-दीव होते हुए दक्षिण गुजरात के तटवर्ती इलाकों में हल्की बारिश के साथ प्रवेश करेगा।

5 दिसंबर से तेज हवाओं के साथ बारिश होगी, जिसका सीधा असर समुद्र के तट पर बसे इलाकों में देखा जा सकेगा। हवाओं की गति करीब 55 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है।

शानिवार शाम तक  चक्रवात ओखी लक्षद्वीप को पार कर चुका था। इसके हवाओं की गति औसतन 150 किलोमीटर प्रति घण्टे बताई जा रही है। तटरक्षक दल ने लक्षद्वीप के 813, केरल के 531 और तमिलनाडु के 100 मछुआरों को बचाया है। 

 तूफान, बारिश से सबसे अधिक प्रभावित लक्षद्वीप में 31 राहत शिविर बनाए गए हैं। इनमें 1000 से अधिक लोगों को पनाह दिया गया है। कन्याकुमारी जिले में राहत-बचाव काम तेज किया गया है।

तूफान के गुरुवार को केरल तट से टकराने से पहले तेज हवाओं और भारी बारिश के बीच समुद्र में दर्जनों नौकाओं के समुद्र में बहने की आशंका है। तमिलनाडु और केरल में तूफान का असर बना हुआ है। 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s